28 December, 2016

Dil toot jane wali shayari in hindi


रोते हुए नयन देखे, 
मुस्कुराता हुआ अधर देखा...!!!
गैरों के हाथों में मरहम, 
अपनों के हाथों में खंजर देखा...!!!

No comments:

Post a Comment