29 December, 2016

Hindi shayari with images download


मैं जिस्म ओ जान के खेल में बे-बाक हो गया;
किस ने ये छू दिया है कि मैं चाक हो गया....!!!
किस ने कहा वजूद मेरा खाक हो गया;
मेरा लहू तो आप की पोशाक हो गया....!!!

No comments:

Post a Comment