Best दो लाइन की शायरी 2016

तेरे पास भी कम नहीं....!!! मेरे पास भी बहुत हैं....!!!
ये परेशानियाँ आजकल फुरसत में बहुत हैं 

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

मेरे लफ़्ज़ों से न कर मेरे क़िरदार का फ़ैसला।।
तेरा वज़ूद मिट जायेगा मेरी हकीक़त ढूंढ़ते ढूंढ़ते।।

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

कितना कुछ जानता होगा वो सख्श मेरे बारे में;
मेरे मुस्कुराने पर भी जिसने पूछ लिया कि तुम
उदास क्यूँ हो ?

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

चूम कर कफ़न में लिपटें मेरे चेहरे को....!!! उसने
तड़प के कहा…....??
....??
....??
नए कपड़े क्या पहन लिए....!!! हमें देखते
भी नहीं’…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

जाते जाते उसने पलटकर इतना ही कहा मुझसे
मेरी बेवफाई से ही मर जाओगे या मार के जाऊँ”

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$


जुल्फों को फैला कर जब कोई महबूबा किसी आशिक की कब्र पर रोती है …
तब महसूस होता है कि मौत भी कितनी हसीं होती हे…....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

तेरी मुहब्बत भी किराये के घर की तरह
थी…....??....??
कितना भी सजाया पर मेरी नहीं हुई…....??


$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

यहाँ हजारों शायर है जो तख़्त बदलने निकले है....!!!
कुछ मेरे जैसे पागल है जो वक़्त बदलने निकले है....!!!…....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

नाकाम मोहब्बतें भी बड़े काम की होती हैं
दिल मिले ना मिले नाम मिल जाता है....??....??!

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

उनके लिए जब हमने भटकना छोड़ दिया....!!!
याद में उनकी जब तड़पना छोड़ दिया....!!!
वो रोये बहुत आकर तब हमारे पास....!!!
जब हमारे दिल ने धडकना छोड़ दिया....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

” कितनी झुठी होती है....!!! मोहब्बत की कस्मेँ…....??
देखो तुम भी जिन्दा हो....!!! मैँ भी जिन्दा हूँ…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

वो शायद मतलब से मिलते हैं....!!!
मुझे तो मिलने से मतलब है....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

तुमने कहा था आँख भर के देख लिया करो मुझे....!!!
मगर अब आँख भर आती है तुम नजर नही आते हो।

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

उसने महबूब ही तो बदला है फिर ताज्जुब कैसा....??....??
दुआ कबूल ना हो तो लोग खुदा तक बदल लेते है....??....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

हाथ ज़ख़्मी हुए तो कुछ अपनी ही खता थी…....??....??
लकीरों को मिटाना चाहा किसी को पाने की खातिर…....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

वो इस तरह मुस्कुरा रहे थे ....!!! जैसे कोई गम छुपा रहे थे....??....??
बारिश में भीग के आये थे मिलने ....!!! शायद वो आंसु छुपा रहे थे....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

आज उसकी एक बात ने मुझे मेरी गलती की यूँ सजा दी…
छोड़ कर जाते हुए कह गई....!!!
जब दर्द बर्दाश्त नहीं होता तो मुझ से मोहब्बत क्यूँ की…....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

उसके साथ जीने का इक मौका दे दे....!!! ऐ खुदा....??....??
तेरे साथ तो हम मरने के बाद भी रह लेंगे....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

उठाये जो हाथ उन्हें मांगने के लिए....!!!
किस्मत ने कहा....!!! अपनी औकात में रहो।

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

जब से बाजी....!!! वफा की हारे हैं....??
दोस्तों....!!! हम भी गम के मारे हैं....??
तुम हमारे सिवा....!!! सभी के हो....!!!
हम किसी के नहीं....!!! तुम्हारे हैं....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$
  
मेरे बारे में अपनी सोच को थोड़ा बदलकर देख....!!!
मुझसे भी बुरे हैं लोग तू घर से निकलकर देख…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

तेरी यादों की कोई सरहद होती तो अच्छा था
खबर तो रहती…....??सफर तय कितना करना है

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

जुबां खुली पर कुछ कह न पाए ....!!! आँखों से चाहत जता रहे थे 
सुबह की चाहत लिए नज़र में ....!!! रात नज़र में बिता रहे थे 

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

मुझे दफनाने से पहले मेरा दिल निकाल कर उसे दे देना…
मैं नही चाहता के वो खेलना छोङ दे…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

किसी ने ग़ालिब से कहा
सुना है जो शराब पीते हैं उनकी दुआ कुबूल नहीं होती …....??
ग़ालिब बोले: “जिन्हें शराब मिल जाए उन्हें किसी दुआ की ज़रूरत नहीं होती”

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

जो भी आता है एक नयी चोट दे के चला जाता है ए दोस्त....!!!…....??
मै मज़बूत बहोत हु लेकिन कोई पत्थर तो नहीं....!!!…....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

वो अपनी ज़िंदगी में हुआ मशरूफ इतना;
वो किस-किस को भूल गया उसे यह भी याद नहीं।

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

याद आयेगी हमारी तो बीते कल को पलट लेना....??....??
यूँ ही किसी पन्ने में मुस्कुराते हुए मिल जायेंगे ....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

पथ्थर समझ के हमें मत ठुकराओ ....!!!
कल हम मंदिर में भी हो सकते हैं ।

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

युं तो गलत नही होते अंदाज चहेरों के…
लेकिन लोग…
वैसे भी नहीं होते जैसे नजर आते है....??....??....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

दिल में है जो बात किसी भी तरह कह डालिए
ज़िन्दगी ही ना बीत जाए कहीं बताने मे …....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

जिस्म का दिल से अगर वास्ता नहीं होता....??....??
क़सम खुदा की कोई हादसा नहीं होता....??....??
वे लोग जायें कहाँ बोलिये खड़े हैं जो....??....??
उस हद के बाद जहाँ रास्ता नहीं होता....??....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

जुबां पे झूंट जब आया उसे मैंने दबा दिया....!!!
कहा फिर भी नहीं की तू मुझे छोड़ चुकी हे तु

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

रोज़ रोते हुए कहती है ये ज़िंदगी मुझसे
सिर्फ एक शख्स कि खातिर मुझे बर्बाद मत कर …....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

ए दिल अब तो होश मैं आ…....??....??
यहाँ तुझे कोई अपना कहता ही नहीं…....??
और तू है की खामख्वा किसी का बनने पे तुला है…....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

किसी को मिल गया मौका....!!! बुलन्दियों को छूने का....!!!
मेरा नाकाम होना भी किसी के काम तो आया।

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

तु हजार बार भी रूठे तो मना लुगाँ तझे....!!!
मगर देख....!!! मुहब्बत में शामिल कोई दुसरा न हो

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

मौम के पास कभी आग को लाकर देखूँ....!!!
सोचता हूँ के तुझे हाथ लगा कर देखूँ……

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

दिल का मंदिर बड़ा वीरान नज़र आता है....!!!
सोचता हूँ तेरी तस्वीर लगा कर देखूँ…....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

चाँद उतरा था हमारे आँगन में....!!!
ये सितारों को गवाँरा ना हुआ....!!!
हम भी सितारों से क्या गिला करें....!!!
जब चाँद ही हमारा ना हुआ…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

भीगी आँखों से मुस्कराने में मज़ा और है....!!!
हसते हँसते पलके भीगने में मज़ा और है....!!!
बात कहके तो कोई भी समझलेता है....!!!
पर खामोशी कोई समझे तो मज़ा और है....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

भूल जाना उसे मुश्किल तो नहीं है लेकिन
काम आसान भी हमसे कहाँ होते हैं!

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

गुज़र गया वो वक़्त जब तेरी हसरत
थी मुझको....!!!
अब तू खुदा भी बन जाए तो भी तेरा सजदा ना करूँ…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

जिंदगी देने वाले ....!!! मरता छोड़ गये....!!!
अपनापन जताने वाले तन्हा छोड़ गये....!!!
जब पड़ी जरूरत हमें अपने हमसफर की....!!!
वो जो साथ चलने वाले....!!! रास्ता मोड़ गये”

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

हालात की दलील देकर उन्होनें साथ छोङ़ा ....!!! तो हम आहत नहीं हुए …....??....!!!
सोचा हमसे ना सही ....!!! चलो किसी से तो वफ़ा निभाई उन्होने…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

“ज़िन्दगी ने आज कह दिया है मुझे....!!!
किसी और से प्यार है....!!!
मेरी मौत से पूछो....!!!
अब उसे किस बात का इंतज़ार है....??”

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

घर से तो निकले थे हम ख़ुशी की ही तलाश में....!!!
किस्मत ने ताउम्र का हमैं मुसाफिर बना दिया।

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

उन्हें नफरत हुयी सारे जहाँ से ....!!!
अब नयी दुनिया लाये कहाँ से…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

तू मेरे जनाज़े को कन्धा मत देना....!!!
कही ज़िन्दा ना हो जाऊँ फिर तेरा सहारा देख कर …

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

दीं सदायें जिंदगी ने मैं ही सुन पाया नहीं....!!!
ख्वाब आँखों में बहुत थे कोई बुन पाया नहीं।

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

दिल भी एक जिद पर अड़ा है किसी बच्चे की तरह....!!!
या तो सब कुछ ही चाहिए या कुछ भी नही…....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

वो अपने मेहंदी वाले हाथ मुझे दिखा कर रोई....!!!
अब मैं हुँ किसी और की....!!! ये मुझे बता कर रोई....!!!
पहले कहती थी कि नहीं जी सकती तेरे बिन....!!!
आज फिर से वो बात दोहरा कर रोई…
कैसे कर लुँ उसकी महोब्बत पे शक यारो…
वो भरी महफिल में मुझे गले लगा कर रोई…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

“दोस्त ने दोस्त को....!!! दोस्त के लिए रुला दिया....!!!
क्या हुआ जो किसी केलिए उसने हूमें भुला दिया....!!!
हम तो वैसे भी अकेले थे अच्छा हुआ
जो उसने हमे एहसास तो दिला दिया....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

अगर है दम तो चल डुबा दे मुजको....!!!
समंदर नाकाम रहा....!!! अब तेरी आँखो की बारी....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

जब से पता चला है....!!! की मरने का नाम है ‘जींदगी’;
तब से....!!! कफ़न बांधे कातील को ढूढ़ते हैं!”

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

तुम जैसा मुझे… कोण? कब
कहा और कैसे मिलेगा....??....??....??
सोचो…
बताओ…
वरना मेरे हो जाओ …


$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

रात सारी तड़पते रहेंगे हम अब ....!!!
आज फिर ख़त तेरे पढ़ लिए शाम को”

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

जिंदगी भर के इम्तिहान के बाद …....??....??
वो शख्स
नतीजे में किसी और का निकला ....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

मोहब्बत उसे भी बहुत है मुझसे
जिंदगी सारी इस वहम ने ले ली…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

बादशाह तो में कहीं का भी बन सकता हूँ
पर तेरे दिल की नगरी में हुकूमत करने
का मज़ा ही कुछ अलग है……

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

नहीं चाहिए कुछ भी तेरी इश्क़ कि दूकान से....!!!
हर चीज में मिलावट है बेवफाई कि....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

काश तुम मौत होती तो
एक दिन मेरी जरूर होती ……

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

बुला कर तुम ने महफ़िल में हमें ग़ैरों से उठवाया
हमीं ख़ुद उठ गए होते इशारा कर दिया होता…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

तूने हसीन से हसीन चेहरो को उदास किया है…....??
ए इश्क …....??
तू अगर इन्सान होता तो तेरा पहला कातिल मै होता....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

ना आना लेकर उसे मेरे जनाजे में....!!!
मेरी मोहब्बत की तौहीन होगी....!!!
मैं चार लोगो के कंधे पर हूंगा....!!!
और मेरी जान पैदल होगी....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

 “वो जो हमसे नफरत करते हैं....!!!
हम तो आज भी सिर्फ उन पर मरते हैं....!!!
नफरत है तो क्या हुआ यारो....!!!
कुछ तो है जो वो सिर्फ हमसे करते हैं

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

हमारे चले जाने के बाद....!!! ये समुंदर भी पूछेगा तुमसे....!!!
कहा चला गया वो शख्स जो तन्हाई मे आ कर....!!!
बस तुम्हारा ही नाम लिखा करता था…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

  ना हम रहे दील लगाने के क़ाबील....!!!
ना दील रहा गम उठाने के क़ाबिल....!!!
लगा उसकी यादों से जो ज़ख़्म दिल पर....!!!
ना छोड़ा उस ने मुस्कुराने के क़ाबील....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

जाते वक़त उसने बड़े गुरुर से कहा था -
तुझ जेसे लाखो मिलेगे....??
मैंने मुस्कराकर पूछा : मुझ जेसे कि तलाश ही क्यों ?

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

टूटे हुए गिलास में जाम नहीं आता....!!!
इश्क के मरीजों को आराम नहीं आता....!!!
दिल तोड़ने से पहले सोचा तो होता....!!!
टुटा हुआ दिल किसी के काम नहीं आता …....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

हमें ए दिल कहीं ले चल … बड़ा तेरा करम होगा
हमारे दम से है हर गम …न होंगे हम और ना गम होगा

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

बुलबुल बैठा पेड पर मैने सोचा तोता है।
यारा तेरे प्यार मे दिल ये मेरा रोता है।

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

कभी ये लगता है अब ख़त्म हो गया सब कुछ
कभी ये लगता है अब तक तो कुछ हुआ भी नहीं

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

कुछ लोग मेरी शायरी से सीते हैं अपने जख्म....!!!
कुछ लोगों को मैं चुभता हूँ सुई की नोक के जैसे

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

एहसान नहीं है जिन्दगी तेरा मुझ पर ....!!!
मैंने हर सांस की यहाँ कीमत दी है....??....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

अपनो को दूर होते देखा ....!!!
सपनो को चूर होते देखा !
अरे लोग कहते हैँ की फूल कभी रोते नही ....!!!
हमने फूलोँ को भी तन्हाइयोँ मे रोते देखा....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

सिर्फ एहसास होता है चाहत मे....!!! इकरार नहीं होता....??
दिल से दिल मिलते हैं मोह्हबत में इंकार नहीं होता....??
ये कब समझोगे मेरे दोस्तों....!!! दिल को लफजों की जरूरत नहीं होती....??
ख़ामोशी सबकुछ कह देती है प्यार में इज़हार नहीं होता

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

तेरी आरज़ू मेरा ख्वाब है…
जिसका रास्ता बहुत खराब है…
मेरे ज़ख़्म का अंदाज़ा ना लगा…
दिल का हर पन्ना दर्द की किताब है…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

काटो के बदले फूल क्या दोगे…
आँसू के बदले खुशी क्या दोगे…
हम चाहते है आप से उमर भर की दोस्ती…
हमारे इस शायरी का जवाब क्या दोगे?

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

वो फिर से लौट आये थे मेरी जिंदगी में’ अपने मतलब के लिये
और हम सोचते रहे की हमारी दुआ में दम था....??....??....??....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

रात क्या ढली कि सितारे चले गये....!!! 
गैरों से क्या कहें हम जब अपने ही चले गये....!!!
जीत तो सकते थे हम भी इश्क की बाज़ी....!!! 
पर तुम्हे जितने के लिए हम हारते चले गये…....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

तेरा उलज़ा हुआ दामन मेरी अंजुमन तो नहीं....!!!
जो मेरे दिल में है शायद तेरी धड़कन तो नहीं....!!!
यू यकायक मुजे बरसाद की क्यों याद आई....!!!
जो घटा है तेरी आँखों में वो सावन तो नहीं....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

भीगी आँखों से मुस्कराने में मज़ा और है....!!!
हसते हँसते पलके भीगने में मज़ा और है....!!!
बात कहके तो कोई भी समझलेता है....!!!
पर खामोशी कोई समझे तो मज़ा और है....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

ना मुलाक़ात याद रखना....!!! ना पता याद रखना....!!!
बस इतनी सी आरज़ू है....!!! मेरा नाम याद रखना....??....??


$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

हमारे बाद अब महफ़िल में अफ़साने बयां होंगे
बहारे हमको ढूँढेंगी ना जाने हम कहाँ होंगे
ना हम होंगे ना तुम होंगे और ना ये दिल होगा फिर भी
हज़ारो मंज़िले होंगी हज़ारो कारँवा होंगे

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

काश वो नगमे सुनाए ना होते
आज उनको सुनकर ये आँसू आए ना होते
अगर इस तरह भूल जाना ही था
तो इतनी गहराई से दिल्मे समाए ना होते…....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

ज़ख़्म जब मेरे सीने के भर जाएँगे;
आँसू भी मोती बनकर बिखर जाएँगे;
ये मत पूछना किस किस ने
धोखा दिया;
वरना कुछ अपनो के चेहरे उतर जाएँगे।

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

उतरे जो ज़िन्दगी तेरी गहराइयों में।
महफ़िल में रह के भी रहे तनहाइयों में
इसे दीवानगी नहीं तो और क्या कहें।
प्यार ढुढतेँ रहे परछाईयों मेँ।

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

हमने दिल जो वापीस मांगा तो सिर जुका के…
बोले
वो तो टुंट गया युहि खेलते खेलते……....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

मंजीले मुश्किल थी पर हम खोये नहीं…
दर्द था दिल में पर हम रोये नहीं…
कोई नहीं आज हमारा जो पूछे हमसे…
जाग रहे हो किसी के लिए....??....??या किसी के लिये सोये नहीं…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

दिल रोज सजता है....!!! नादान दुल्हन की तरह....??....??
गम रोज चले आते हैं....!!! बाराती बनकर....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

 ‘तू’ डालता जा साकी शराब मेरे प्यालो में…
जब तक ‘वो’ न निकले मेरे ख्यालों से....??....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

अजनबी ख्वाहिशें सीने में दबा भी न सकूँ
ऐसे जिद्दी हैं परिंदे के उड़ा भी न सकूँ
फूँक डालूँगा किसी रोज ये दिल की दुनिया
ये तेरा खत तो नहीं है कि जला भी न सकूँ

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$


सुलाके सबको गहरी नींद में …
फिर अकेला क्युं अंधेरा जागता है....??....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

“एक बार उसने कहा था मेरे सिवा किसी से प्यार ना करना....!!!
बस फिर क्या था तबसे मोहब्बत की नजर से हमने खुद को भी नहीं देखा”

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

ना नमाज़ आती है मुझे....!!! ना वज़ू आता है....!!!
सज़दा कर लेता हूँ जब सामने तू आती है…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$


tere paas bhee kam nahin....!!! 
mere paas bhee bahut hain....!!!
ye pareshaaniyaan aajakal phurasat mein bahut hain 

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

mere lafzon se na kar mere qiradaar ka faisala....??....??
tera vazood mit jaayega meree hakeeqat dhoondhate dhoondhate....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

kitana kuchh jaanata hoga vo sakhsh mere baare mein;
mere muskuraane par bhee jisane poochh liya ki tum
udaas kyoon ho ?

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$
choom kar kafan mein lipaten mere chehare ko....!!! usane
tadap ke kaha…....??
....??
....??
nae kapade kya pahan lie....!!! hamen dekhate
bhee nahin’…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

jaate jaate usane palatakar itana hee kaha mujhase
meree bevaphaee se hee mar jaoge ya maar ke jaoon”

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

julphon ko phaila kar jab koee mahabooba kisee aashik kee kabr par rotee hai …
tab mahasoos hota hai ki maut bhee kitanee haseen hotee he…....??
$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$
teree muhabbat bhee kiraaye ke ghar kee tarah
thee…....??....??
kitana bhee sajaaya par meree nahin huee…....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

yahaan hajaaron shaayar hai jo takht badalane nikale hai....!!!
kuchh mere jaise paagal hai jo vaqt badalane nikale hai....!!!…....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

naakaam mohabbaten bhee bade kaam kee hotee hain
dil mile na mile naam mil jaata hai....??....??!

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

unake lie jab hamane bhatakana chhod diya....!!!
yaad mein unakee jab tadapana chhod diya....!!!
vo roye bahut aakar tab hamaare paas....!!!
jab hamaare dil ne dhadakana chhod diya....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

” kitanee jhuthee hotee hai....!!! mohabbat kee kasmen…....??
dekho tum bhee jinda ho....!!! main bhee jinda hoon…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

vo shaayad matalab se milate hain....!!!
mujhe to milane se matalab hai....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

tumane kaha tha aankh bhar ke dekh liya karo mujhe....!!!
magar ab aankh bhar aatee hai tum najar nahee aate ho....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

usane mahaboob hee to badala hai phir taajjub kaisa....??....??
dua kabool na ho to log khuda tak badal lete hai....??....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

haath zakhmee hue to kuchh apanee hee khata thee…....??....??
lakeeron ko mitaana chaaha kisee ko paane kee khaatir…....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

vo is tarah muskura rahe the ....!!! jaise koee gam chhupa rahe the....??....??
baarish mein bheeg ke aaye the milane ....!!! shaayad vo aansu chhupa rahe the....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

aaj usakee ek baat ne mujhe meree galatee kee yoon saja dee…
chhod kar jaate hue kah gaee....!!!
jab dard bardaasht nahin hota to mujh se mohabbat kyoon kee…....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

usake saath jeene ka ik mauka de de....!!! ai khuda....??....??
tere saath to ham marane ke baad bhee rah lenge....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

uthaaye jo haath unhen maangane ke lie....!!!
kismat ne kaha....!!! apanee aukaat mein raho....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

jab se baajee....!!! vapha kee haare hain....??
doston....!!! ham bhee gam ke maare hain....??
tum hamaare siva....!!! sabhee ke ho....!!!
ham kisee ke nahin....!!! tumhaare hain....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

mere baare mein apanee soch ko thoda badalakar dekh....!!!
mujhase bhee bure hain log too ghar se nikalakar dekh…


$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

teree yaadon kee koee sarahad hotee to achchha tha
khabar to rahatee…....??saphar tay kitana karana hai

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

jubaan khulee par kuchh kah na pae ....!!! 
aankhon se chaahat jata rahe the 
subah kee chaahat lie nazar mein ....!!! 
raat nazar mein bita rahe the

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

mujhe daphanaane se pahale mera dil nikaal kar use de dena…
main nahee chaahata ke vo khelana chhon de…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

kisee ne gaalib se kaha
suna hai jo sharaab peete hain unakee dua kubool nahin hotee …....??
gaalib bole: “jinhen sharaab mil jae unhen kisee dua kee zaroorat nahin hotee”

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

jo bhee aata hai ek nayee chot de ke chala jaata hai e dost....!!!…....??
mai mazaboot bahot hu lekin koee patthar to nahin....!!!…....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

vo apanee zindagee mein hua masharooph itana;
vo kis-kis ko bhool gaya use yah bhee yaad nahin....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

yaad aayegee hamaaree to beete kal ko palat lena....??....??
yoon hee kisee panne mein muskuraate hue mil jaayenge ....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

paththar samajh ke hamen mat thukarao ....!!!
kal ham mandir mein bhee ho sakate hain ....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

yun to galat nahee hote andaaj chaheron ke…
lekin log…
vaise bhee nahin hote jaise najar aate hai....??....??....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

dil mein hai jo baat kisee bhee tarah kah daalie
zindagee hee na beet jae kaheen bataane me …....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

jism ka dil se agar vaasta nahin hota....??....??
qasam khuda kee koee haadasa nahin hota....??....??
ve log jaayen kahaan boliye khade hain jo....??....??
us had ke baad jahaan raasta nahin hota....??....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

jubaan pe jhoont jab aaya use mainne daba diya....!!!
kaha phir bhee nahin kee too mujhe chhod chukee he tu

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

roz rote hue kahatee hai ye zindagee mujhase
sirph ek shakhs ki khaatir mujhe barbaad mat kar …....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

e dil ab to hosh main aa…....??....??
yahaan tujhe koee apana kahata hee nahin…....??
aur too hai kee khaamakhva kisee ka banane pe tula hai…....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

kisee ko mil gaya mauka....!!! bulandiyon ko chhoone ka....!!!
mera naakaam hona bhee kisee ke kaam to aaya....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

tu hajaar baar bhee roothe to mana lugaan tajhe....!!!
magar dekh....!!! muhabbat mein shaamil koee dusara na ho

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

maum ke paas kabhee aag ko laakar dekhoon....!!!
sochata hoon ke tujhe haath laga kar dekhoon……

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

dil ka mandir bada veeraan nazar aata hai....!!!
sochata hoon teree tasveer laga kar dekhoon…....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

chaand utara tha hamaare aangan mein....!!!
ye sitaaron ko gavaanra na hua....!!!
ham bhee sitaaron se kya gila karen....!!!
jab chaand hee hamaara na hua…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

bheegee aankhon se muskaraane mein maza aur hai....!!!
hasate hansate palake bheegane mein maza aur hai....!!!
baat kahake to koee bhee samajhaleta hai....!!!
par khaamoshee koee samajhe to maza aur hai....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

bhool jaana use mushkil to nahin hai lekin
kaam aasaan bhee hamase kahaan hote hain!

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

guzar gaya vo vaqt jab teree hasarat
thee mujhako....!!!
ab too khuda bhee ban jae to bhee tera sajada na karoon…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

jindagee dene vaale ....!!! marata chhod gaye....!!!
apanaapan jataane vaale tanha chhod gaye....!!!
jab padee jaroorat hamen apane hamasaphar kee....!!!
vo jo saath chalane vaale....!!! raasta mod gaye”

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

haalaat kee daleel dekar unhonen saath chhonaa ....!!! 
to ham aahat nahin hue …....??....!!!
socha hamase na sahee ....!!! chalo kisee se to vafa nibhaee unhone.

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

“zindagee ne aaj kah diya hai mujhe....!!!
kisee aur se pyaar hai....!!!
meree maut se poochho....!!!
ab use kis baat ka intazaar hai....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

ghar se to nikale the ham khushee kee hee talaash mein....!!!
kismat ne taumr ka hamain musaaphir bana diya....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

unhen napharat huyee saare jahaan se ....!!!
ab nayee duniya laaye kahaan se…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

too mere janaaze ko kandha mat dena....!!!
kahee zinda na ho jaoon phir tera sahaara dekh kar …

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

deen sadaayen jindagee ne main hee sun paaya nahin....!!!
khvaab aankhon mein bahut the koee bun paaya nahin....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

dil bhee ek jid par ada hai kisee bachche kee tarah....!!!
ya to sab kuchh hee chaahie ya kuchh bhee nahee…....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

vo apane mehandee vaale haath mujhe dikha kar roee....!!!
ab main hun kisee aur kee....!!! ye mujhe bata kar roee....!!!
pahale kahatee thee ki nahin jee sakatee tere bin....!!!
aaj phir se vo baat dohara kar roee…
kaise kar lun usakee mahobbat pe shak yaaro…
vo bharee mahaphil mein mujhe gale laga kar roee…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

“dost ne dost ko....!!! dost ke lie rula diya....!!!
kya hua jo kisee kelie usane hoomen bhula diya....!!!
ham to vaise bhee akele the achchha hua
jo usane hame ehasaas to dila diya....??“

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

agar hai dam to chal duba de mujako....!!!
samandar naakaam raha....!!! ab teree aankho kee baaree....??....??


$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

jab se pata chala hai....!!! kee marane ka naam hai ‘jeendagee’;
tab se....!!! kafan baandhe kaateel ko dhoodhate hain!”

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$
tum jaisa mujhe… kon? kab
kaha aur kaise milega....??....??....??
socho…
batao…
varana mere ho jao 

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

raat saaree tadapate rahenge ham ab ....!!!
aaj phir khat tere padh lie shaam ko”

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

jindagee bhar ke imtihaan ke baad …....??....??
vo shakhs
nateeje mein kisee aur ka nikala ....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

mohabbat use bhee bahut hai mujhase
jindagee saaree is vaham ne le lee…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

baadashaah to mein kaheen ka bhee ban sakata hoon
par tere dil kee nagaree mein hukoomat karane
ka maza hee kuchh alag hai……

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

nahin chaahie kuchh bhee teree ishq ki dookaan se....!!!
har cheej mein milaavat hai bevaphaee ki....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

kaash tum maut hotee to
ek din meree jaroor hotee ……

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

bula kar tum ne mahafil mein hamen gairon se uthavaaya
hameen khud uth gae hote ishaara kar diya hota…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

toone haseen se haseen cheharo ko udaas kiya hai…....??
e ishk …....??
too agar insaan hota to tera pahala kaatil mai hota....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

na aana lekar use mere janaaje mein....!!!
meree mohabbat kee tauheen hogee....!!!
main chaar logo ke kandhe par hoonga....!!!
aur meree jaan paidal hogee....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

“vo jo hamase napharat karate hain....!!!
ham to aaj bhee sirph un par marate hain....!!!
napharat hai to kya hua yaaro....!!!
kuchh to hai jo vo sirph hamase karate hain

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

hamaare chale jaane ke baad....!!! 
ye samundar bhee poochhega tumase....!!!
kaha chala gaya vo shakhs jo tanhaee me aa kar....!!!
bas tumhaara hee naam likha karata tha…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$


na ham rahe deel lagaane ke qaabeel....!!!
na deel raha gam uthaane ke qaabil....!!!
laga usakee yaadon se jo zakhm dil par....!!!
na chhoda us ne muskuraane ke qaabeel....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

jaate vaqat usane bade gurur se kaha tha -
tujh jese laakho milege....??
mainne muskaraakar poochha : mujh jese ki talaash hee kyon ?

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

toote hue gilaas mein jaam nahin aata....!!!
ishk ke mareejon ko aaraam nahin aata....!!!
dil todane se pahale socha to hota....!!!
tuta hua dil kisee ke kaam nahin aata …....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

hamen e dil kaheen le chal … bada tera karam hoga
hamaare dam se hai har gam …na honge ham aur na gam hoga

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

bulabul baitha ped par maine socha tota hai....??
yaara tere pyaar me dil ye mera rota hai....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

kabhee ye lagata hai ab khatm ho gaya sab kuchh
kabhee ye lagata hai ab tak to kuchh hua bhee nahin

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

kuchh log meree shaayaree se seete hain apane jakhm....!!!
kuchh logon ko main chubhata hoon suee kee nok ke jaise

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

ehasaan nahin hai jindagee tera mujh par ....!!!
mainne har saans kee yahaan keemat dee hai....??....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

apano ko door hote dekha ....!!!
sapano ko choor hote dekha !
are log kahate hain kee phool kabhee rote nahee ....!!!
hamane phoolon ko bhee tanhaiyon me rote dekha....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

sirph ehasaas hota hai chaahat me....!!! ikaraar nahin hota....??
dil se dil milate hain mohhabat mein inkaar nahin hota....??
ye kab samajhoge mere doston....!!! dil ko laphajon kee jaroorat nahin hotee....??
khaamoshee sabakuchh kah detee hai pyaar mein izahaar nahin hota

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

teree aarazoo mera khvaab hai…
jisaka raasta bahut kharaab hai…
mere zakhm ka andaaza na laga…
dil ka har panna dard kee kitaab hai…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

kaato ke badale phool kya doge…
aansoo ke badale khushee kya doge…
ham chaahate hai aap se umar bhar kee dostee…
hamaare is shaayaree ka javaab kya doge?

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

vo phir se laut aaye the meree jindagee mein’ apane matalab ke liye
aur ham sochate rahe kee hamaaree dua mein dam tha....??....??....??....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

raat kya dhalee ki sitaare chale gaye....!!!
 gairon se kya kahen ham jab apane hee chale gaye....!!!
jeet to sakate the ham bhee ishk kee baazee....!!! 
par tumhe jitane ke lie ham haarate chale gaye…....??


$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

tera ulaza hua daaman meree anjuman to nahin....!!!
jo mere dil mein hai shaayad teree dhadakan to nahin....!!!
yoo yakaayak muje barasaad kee kyon yaad aaee....!!!
jo ghata hai teree aankhon mein vo saavan to nahin....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

bheegee aankhon se muskaraane mein maza aur hai....!!!
hasate hansate palake bheegane mein maza aur hai....!!!
baat kahake to koee bhee samajhaleta hai....!!!
par khaamoshee koee samajhe to maza aur hai....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

na mulaaqaat yaad rakhana....!!! 
na pata yaad rakhana....!!!
bas itanee see aarazoo hai....!!! 
mera naam yaad rakhana....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

hamaare baad ab mahafil mein afasaane bayaan honge
bahaare hamako dhoondhengee na jaane ham kahaan honge
na ham honge na tum honge aur na ye dil hoga phir bhee
hazaaro manzile hongee hazaaro kaaranva honge

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

kaash vo nagame sunae na hote
aaj unako sunakar ye aansoo aae na hote
agar is tarah bhool jaana hee tha
to itanee gaharaee se dilme samae na hote…....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

zakhm jab mere seene ke bhar jaenge;
aansoo bhee motee banakar bikhar jaenge;
ye mat poochhana kis kis ne
dhokha diya;
varana kuchh apano ke chehare utar jaenge....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

utare jo zindagee teree gaharaiyon mein....??
mahafil mein rah ke bhee rahe tanahaiyon mein
ise deevaanagee nahin to aur kya kahen....??
pyaar dhudhaten rahe parachhaeeyon men....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

hamane dil jo vaapees maanga to sir juka ke…
bole
vo to tunt gaya yuhi khelate khelate……....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

manjeele mushkil thee par ham khoye nahin…
dard tha dil mein par ham roye nahin…
koee nahin aaj hamaara jo poochhe hamase…
jaag rahe ho kisee ke lie....??....??ya kisee ke liye soye nahin…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

dil roj sajata hai....!!!
 naadaan dulhan kee tarah....??....??
gam roj chale aate hain....!!! baaraatee banakar....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

‘too’ daalata ja saakee sharaab mere pyaalo mein…
jab tak ‘vo’ na nikale mere khyaalon se....??....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

ajanabee khvaahishen seene mein daba bhee na sakoon
aise jiddee hain parinde ke uda bhee na sakoon
phoonk daaloonga kisee roj ye dil kee duniya
ye tera khat to nahin hai ki jala bhee na sakoon

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

sulaake sabako gaharee neend mein …
phir akela kyun andhera jaagata hai....??....??....??

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$

“ek baar usane kaha tha mere siva kisee se pyaar na karana....!!!
bas phir kya tha tabase mohabbat kee najar se hamane khud ko bhee nahin dekha”

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$


na namaaz aatee hai mujhe....!!! na vazoo aata hai....!!!
sazada kar leta hoon jab saamane too aatee hai…

$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$$



Best दो लाइन की शायरी 2016,दो लाइन की शायरी 2016,हिन्दी दो लाइन शायरी,दो लाइन शायरी फेसबुक,दो लाइन शेर शायरी,दो लाइन दर्द भरी शायरी,चार लाइन की शायरी,दो लाइन के शेर,हिंदी शायरी फेसबुक,दो लाईन शायरी.

No comments:

Post a Comment