Hindi shayari 4 line 2016


तेरे लिए तो हूँ मैं बस वक़्त का एक बुलबुला............@@@
जितना जीना था जी लिया, लो अब मैं चला ...?
तुझे याद करता हूँ तो बढ़ जाती है तकलीफ़ें,
ऐ ज़िन्दगी तू यहीं ठहर, लो अब मैं चला ............@@@

********************

न मिले किसी का साथ तो हमें याद करना............@@@
तन्हाई महसूस हो तो हमें याद करना….,
खुशियाँ बाटने के लियें दोस्त हजारो रखना............@@@
जब ग़म बांटना हो तो हमें याद करना..

********************

तुम बताओ तो मुझे किस बात की सजा देते हो............@@@
मंदिर में आरती और महफ़िल में शमां कहते हो....
मेरी किस्मत में भी क्या है लोगो जरा देख ............@@@
तुम या तो मुझे बुझा देते हो या फिर जला देते हो

********************

अब तो ख़ुशी का ग़म है न ग़म की ख़ुशी मुझे
बे-हिस बना चुकी है बहुत ज़िंदगी मुझे...............@@@
वो वक़्त भी ख़ुदा न दिखाए कभी मुझे
उन की नदामतों पे हो शर्मिंदगी मुझे...............@@@

********************

हमारा ज़िक्र भी अब जुर्म हो गया है वहाँ............@@@
दिनों की बात है महफ़िल की आबरू हम थे
ख़याल था कि ये पथराव रोक दें चल कर
जो होश आया तो देखा लहू लहू हम थे ............@@@

********************
वो बेवफा हमारा इम्तेहा क्या लेगी…............@@@
मिलेगी नज़रो से नज़रे तो अपनी नज़रे ज़ुका लेगी…
उसे मेरी कबर पर दीया मत जलाने देना…............@@@
वो नादान है यारो… अपना हाथ जला लेगी.

********************

मैं रो के आह करूँगा जहाँ रहे न रहे............@@@
ज़मीं रहे न रहे आसमाँ रहे न रहे
रहे वो जान-ए-जहाँ ये जहाँ रहे न रहे............@@@
मकीं की ख़ैर हो या रब मकाँ रहे न रहे

********************
अपने घर की इज्ज़त सब को प्यारी लगती है............@@@
गैरों की बहन बेटी क्यों अबला नारी लगती है,
दुसरो की बहन बेटी को छेड़ने में बड़ा मजा आता है............@@@
खुद की बहन बेटी को कोई देखे तो मिर्ची क्यों लगती है,

********************

छू ले आसमान ज़मीन की तलाश ना कर............@@@
जी ले ज़िंदगी खुशी की तलाश ना कर,
तकदीर बदल जाएगी खुद ही मेरे दोस्त............@@@
मुस्कुराना सीख ले वजह की तलाश ना कर

********************

उल्फत का अक्सर यही दस्तूर होता है............@@@
जिसे चाहो वही अपने से दूर होता है!
दिल टूटकर बिखरता है इस कदर............@@@
जैसे कोई कांच का खिलौना चूर-चूर होता है............@@@


**********************


रूठी जो ज़िन्दगी तो मन लेंगे हम............@@@
मिले जो ग़म वो सेह लेंगे हम,
बस आप रहना हमेशा साथ हमारे तो............@@@
निकलते हुए आंसुओं में भी मुस्कुरा लेंगे हम............@@@

**********************

कोई चाँद से मोहब्बत करता है,
कोई सूरज से मोहब्बत करता है............@@@
हम उनसे मोहब्बत करते है,
जो हमसे मोहब्बत करते है ............@@@

***********************



No comments:

Post a Comment